Friday, February 10, 2012

Purani Yaaden

पुरानी यादें भी कभी ताजा कर लो,
पूरे किस्से नहीं तो, आज आधा कह लो,
ज़िन्दगी की आपाधापी में सब भूल बैठे हो,
आज के गम के बदले, कुछ पुरानी खुशियाँ चुन लो.

कल मोड़ पर मिली थी, ज़िन्दगी!
कुछ खामोश, कुछ बदहवास, कुछ बदगुमान,
उसको भी कुछ पल हसीन दे दो,
पुरानी यादें भी कभी ताजा कर लो.

मशीनी हालात में जी रहे हो आज कल,
ऐसा लगता है, दिल में जज्बात गुम गए हैं कहीं,
आज फिर से कुछ पुराने, अपने सपने बुन लो,
पुरानी यादें भी कभी ताजा कर लो.


No comments:

Post a Comment